उत्तर प्रदेश की बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद मंगलवार सुबह उसका शव उसके पैतृक गांव जौनपुर जिले के सुरेरी थाना क्षेत्र के पूरे दयाल गांव पहुंचा। शव के गांव में पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया। मुन्ना बजरंगी के शव का अंतिम संस्कार आज कर दिया गया। हालात बिगड़ने की आशंका को देखते हुए सुरक्षा के भी इंतजाम किए गए हैं। इस बीच मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने पति की हत्या के मामाले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है।5वीं तक पढ़े मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद उसके पैतृक जिला जौनपुर के सुरेरी थाना क्षेत्र के पूरे दयाल गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। मुन्ना के परिजन सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जांच की मांग कर रहे हैं। मुन्ना बजरंगी के परिजनों ने कहा कि मुन्ना हमारे गांव का शेर था जो आज चला गया। हम उसकी मौत से काफी दुखी हैं। परिजनों ने योगी सरकार से बागपत जेल प्रशासन पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े