अगर आपने रामायण से जुड़े धार्मिक स्थलों के अभी तक दर्शन नहीं किए हैं तो इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) ने एक विशेष पर्यटक ट्रेन चलाने की योजना बनाई है। खबरों के मुताबिक ट्रेन का नाम श्री रामायण एक्सप्रेस होगा जो 14 नवंबर को दिल्ली के सफदरजंग स्टेशन से शुरु होगी।16 दिनों की यात्रा के दौरान ट्रेन का पहला पड़ाव अयोध्या, हनुमान गढ़ी, रामकोट और कनक भवन मंदिर होगा। यहां से रवाना होने के बाद यह विशेष पर्यटक ट्रेन नंदीग्राम, सीतामढ़ी, जनकपुर, वाराणसी, प्रयाग, श्रिंगवेरपुर, चित्रकूट, नासिक, हंपी और रामेश्वरम या इनके नजदीकी स्टेशनों पर रुकेगी।ट्रेन में 800 सीट होंगी। देश के अंदर ही यात्रा खत्म करनेवाले यात्रियों को 15,120 रुपए प्रति व्यक्ति की दर से चुकाना होगा। श्रीलंका में रुचि रखने वाले यात्री उड़ान भरकर चेन्नई से कोलंबो यात्रा करने का विकल्प चुन सकते हैं। उन्हें चेन्नई से फ्लाइट पकड़नी होगी। इसके लिए आईआरसीटीसी अलग से चार्ज करेगा। यह पांच दिन और छह रात वाले श्रीलंका के उस टूर पैकेज से अलग है जिसके तहत कैंडी, नुवारा एलिया, कोलंबो, नेगोंबो आदि स्थलों की यात्रा करवाई जाएगी। इसके लिए प्रति व्यक्ति 47,600 रुपए चुकाने होंगे।

आईआरसीटीसी के एक अधिकारी ने कहा कि इसमें ऑन-बोर्ड ट्रेन भोजन होगा। यात्रा के स्थानों पर धर्मशालाओं में नाइट स्टे और नहाने-धोने को मिलेगा। यात्रियों को सभी जगहों की साइट सीइंग भी करने को मिलेगी और आईआरसीटीसी टूर मैनेजर यात्रियों के साथ आवश्यक सहायता के लिए यात्रा भी करेंगे।

 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े