मिशन 2019 को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्वांचल समेत यूपी के करीब 28 सांसदों का टिकट काटने का फैसला किया है। इसमें सबसे ज्यादा संख्या पूर्वांचल के सांसदों की है। जिसमें कलराज मिश्रा जैसे बड़े नेता शामिल हैं। बीजेपी हाईकमान के इस फैसले से पार्टी में हड़कंप मच गया है। कई सांसद पार्टी छाेड़कर दूसरे दलाें में शामिल होने की कवायद में जुट गए हैं।

सूत्रों के अनुसार यूपी के कई सांसद अब मायावती की बहुजन समाज पार्टी में जाने के अवसर तलाशने लगे हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में मायावती की बहुजन समाज पार्टी का खाता तक नहीं खुला था। लेकिन बीते उपचुनावों के नतीजों में बसपा किंगमेकर बन कर उभरी है जिसके बाद से उसकी अहमियत पहले से कहीं ज्यादा बढ़ गई है। बसपा का परंपरागत दलित वोट बैंक फिर से एकजुट होता हुआ दिखाई दे रहा है। ऐसे में बीजेपी सांसद भी बसपा में आने की तैयारी कर रहे हैं।

खबरों की मानें तो टिकट कटने के डर से बीजेपी के कई वर्तमान सांसद बीएसपी से चुनाव लड़ने की तैयारी में है। इनमें से 5 बीजेपी सांसदों ने बीएसपी के बड़े ताक़तवर नेता से दिल्ली में मुलाकात कर चुके हैं। इनमें से 2 ऐसे सांसद हैं जो पहले भी बीएसपी में रह चुके हैं। इनमें से 1 ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ बीते दिनों रैली भी की थी। 
लेकिन बसपा के एक नेता का कहना है कि उन्हें पार्टी में लेने का कोई इरादा नहीं है।  

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े