झारखंड भाजपा ने झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के विपक्षी गठबंधन बनाने के प्रयासों पर कहा कि भाजपा के डर से पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन विपक्षी एकता का ढोल पीट रहे हैं।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर ने कहा कि सोरेन ने अपने परिवार को भी नहीं बख्शा है और अब उनका विपक्षी एकता का राग ढकोसला मात्र है। उन्होंने सोरेन के उस बयान को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने कहा है कि भाजपा सरकार सरकारी तंत्र का दुरुपयोग करने के साथ ही धनबल की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि सत्ता का दुरुपयोग झामुमो-कांग्रेस ने हमेशा किया और राज्य को विकास से दूर रखा।

प्रभाकर ने कहा कि थैलीशाहों की जेब में बैठकर लोकतांत्रिक मर्यादाओं की धज्जियां उड़ाने का झामुमो का इतिहास रहा है। इसके लिए तो सोरेन ने अपने परिवार को भी नहीं बख्शा है। अपनी गलती छिपाने के लिए वह भाजपा पर आरोप लगाते रहते हैं। भाजपा ने तो पारदर्शी सुशासन देकर विकास की गति तेज की है, जिससे राज्य विकास वृद्धि दर में देश मे दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि सोरेन ने कांग्रेसी चश्मा लगा रखा है इसलिए उन्हें झारखंड का विकास नहीं दिखता।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा को हटाने की चिंता में समय गंवाने की बजाय सोरेन राज्य के विकास में सहयोग दें और सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएं, नहीं तो जनता उनका सफाया कर देगी। विपक्षी दल भाजपा को हटाने की चिंता में डूबे हैं।
 

 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े