राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला। लालू ने आरोप लगाया कि भागलपुर की स्वयंसेवी संस्था सृजन में बड़े पैमाने पर हुई सरकारी राशि के घोटाले के साथ ही 14 बार चेक बांउस किये जाने की जानकारी होने पर भी नीतीश ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे यह साबित होता है कि इस मामले में उनकी सांठगांठ थी। 

लालू ने अपने आवास पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सृजन घोटाले से संबंधित दस्तावेजी प्रमाण उपलब्ध कराते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के संज्ञान में इतना बड़ा घोटाला हुआ है इसकी पूरी जानकारी थी इसके बावजूद इसे रोका नहीं गया। लालू ने कहा कि लोगों की गाढ़ी कमाई को लूटा गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जब तक नीतीश और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं हो जाती और वह जेल नहीं चले जाते तब तक वह शांत बैठने वाले नहीं हैं। चारा घोटाले के समय उन पर इसी तरह का आरोप लगा था कि उनकी जानकारी में ही हुआ है तो ऐसे में नीतीश और मोदी के खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए। 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े