उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय ने सभी जिलाधिकारियों और मुख्य कृषि अधिकारियों को मुख्यमंत्री कृषि ऋण माफी योजना से जुड़ी सभी शिकायतों को पोर्टल बंद होने से पहले निपटा लेने के आदेश दिए हैं।

वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए इस मुख्यमंत्री ऋण माफी योजना की समीक्षा करते हुए डॉ. पांडेय ने कहा कि योजना को लेकर पोर्टल 26 मई तक खुला है इसलिए सभी जिले योजना से जुड़ी शिकायतों का निपटारा पोर्टल बंद होने से पहले कर लें। मुख्यमंत्री ने योजना के तहत जिस तरह से काम हो रहा है, उसे लेकर चिंता जताई है साथ ही नाराजगी भी व्यक्त की है। उन्होंने साफ किया कि मुख्यमंत्री 18 जून, 2018 को स्वयं इस योजना की समीक्षा करेंगे और इससे पहले सभी जिले मामलों को निपटा लें।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक में हिस्सा ले रहे जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने झांसी जिले की प्रगति के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ऑफलाइन 186 शिकायतों को मार्क नहीं किया गया क्योंकि किसानों ने यह सभी शिकायतें ऑनलाइन सत्यापन कराते समय मार्क करा दीं थीं अत: जिने में अब कोई भी शिकायत लंबित नहीं है।

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े