ड्रोन्स में बेहतरीन फीचर्स देने व इनकी रेंज को बढ़ाने के लिए शेन्जेन,चीन की टैक्नोलॉजी कम्पनी DJI ने एक ऐसा ड्रोन बनाया है जिसे रिमोट के जरिए ऑपरेट करते हुए 4 किलोमीटर की रेंज तक उड़ाया जा सकता है। इस ड्रोन की एक और खासियत यह भी है कि ये 30 फ्रेम प्रति सैकेंड की स्पीड से 4K वीडियो रिकार्ड करता है यानी फोटोग्राफरों के लिए किसी भी जगह बेहतरीन वीडियो बनाने में यह काफी काम का साबित होगा। इस मैविक एयर ड्रोन में ऐसे कई फीचर्स दिए गए हैं जिन्हें ज्यादातर प्रोफैशनल कैमरों में ही देखा जाता है।

 

स्लो मोशन वीडियो रिकार्डिंग फीचर
इस ड्रोन से 4K वीडियो रिकार्ड करने के साथ 120 फ्रेम्स प्रति सैकेंड की स्पीड से 1080 पिक्सल्स की स्लो मोशन वीडियो भी रिकार्ड की जा सकती है। 430 ग्राम वजनी इस ड्रोन के साइज को काफी छोटा बनाया गया है यानी अगर इसके प्रोपैलर्स को फोल्ड कर देखा जाए तो इसका साइज स्मार्टफोन जितना हो जाता है। 

  ड्रोन में दिए गए नए मोड्स
इस ड्रोन में वीडियो व तस्वीरों को कैप्चर करने के लिए कई नए मोड्स दिए गए हैं। इसमें पैनोरॉमिक शॉट्स के अलावा बूमरैंग मोड दिया गया है जिसे एक्टिवेट करने पर ड्रोन सब्जैक्ट पर फोकस करते हुए ऑटोमैटिकली उड़ना शुरू कर देता है व वीडियो बनाते हुए व्यक्ति के पीछे-पीछे आना शुरू हो जाता है। वहीं इसमें स्मार्ट कैप्चर मोड भी दिया गया है जो हाथ के इशारे से ही इसे कंट्रोल करने में मदद करता है लेकिन इस मोड में इसे 20 फीट (लगभग 6 मीटर) के अंदर ही नियंत्रित किया जा सकता है।

12MP तस्वीरों को करेगा कैप्चर ड्रोन में दिए गए नए मोड्स
इस ड्रोन में वीडियो व तस्वीरों को कैप्चर करने के लिए कई नए मोड्स दिए गए हैं। इसमें पैनोरॉमिक शॉट्स के अलावा बूमरैंग मोड दिया गया है जिसे एक्टिवेट करने पर ड्रोन सब्जैक्ट पर फोकस करते हुए ऑटोमैटिकली उड़ना शुरू कर देता है व वीडियो बनाते हुए व्यक्ति के पीछे-पीछे आना शुरू हो जाता है। वहीं इसमें स्मार्ट कैप्चर मोड भी दिया गया है जो हाथ के इशारे से ही इसे कंट्रोल करने में मदद करता है लेकिन इस मोड में इसे 20 फीट (लगभग 6 मीटर) के अंदर ही नियंत्रित किया जा सकता है।

इस ड्रोन में 1/2.3-इंच साइज का CMOS सैंसर लगा है जिसका लैंस साइज 24-mm (F2.8) बताया गया है। यह कैमरा 12 मैगापिक्सल्स की स्टिल HDR तस्वीरों को कैप्चर कर सकता है। इस कैमरे से कैप्चर हो रही तस्वीरों को इसमें लगी 8GB की ऑनबोर्ड मैमरी में स्टोर किया जाता है। इसके अलावा लम्बे समय की वीडियो बनाने के लिए इसमें माइक्रो SD कार्ड की सपोर्ट भी दी गई है। ड्रोन में दिए गए नए मोड्स
इस ड्रोन में वीडियो व तस्वीरों को कैप्चर करने के लिए कई नए मोड्स दिए गए हैं। इसमें पैनोरॉमिक शॉट्स के अलावा बूमरैंग मोड दिया गया है जिसे एक्टिवेट करने पर ड्रोन सब्जैक्ट पर फोकस करते हुए ऑटोमैटिकली उड़ना शुरू कर देता है व वीडियो बनाते हुए व्यक्ति के पीछे-पीछे आना शुरू हो जाता है। वहीं इसमें स्मार्ट कैप्चर मोड भी दिया गया है जो हाथ के इशारे से ही इसे कंट्रोल करने में मदद करता है लेकिन इस मोड में इसे 20 फीट (लगभग 6 मीटर) के अंदर ही नियंत्रित किया जा सकता है।

 

इसे उड़ाने के लिए बनाया गया खास रिमोट
इस ड्रोन को उड़ाने के लिए कम्पनी ने खास रिमोट बनाया है। इस रिमोट में एक जॉय स्टिक लगाई गई है जो ड्रोन को बेहतर तरीके से ऑपरेट करने के काम आएगी। बेहतरीन उड़ान भरने के लिए इसमें फ्लाइट ऑटोनोमी 2.0 सिस्टम दिया गया है जो ड्रोन के बोर्ड में लगे 7 ऑनबोर्ड कैमरों व इनफ्रारैड सैंसर्स से उड़ने वाले इलाके का 3D मैप बना लेता है जो उसे किसी भी वस्तु से टकराए बिना आगे बढ़ने में मदद करता है। इसे एक बार चार्ज कर 21 मिनट तक उड़ाया जा सकता है। जानकारी के मुताबिक इसे काले, सफेद या लाल रंग के विकल्प में इसी महीने से 799 अमरीकी डॉलर (लगभग 50870 रुपए) में उपलब्ध किया जाएगा। 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े