केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने घोषणा की है कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, दलित और विकलांग छात्रों को आईआईटी में मुफ्त में शिक्षा मिलेगी। स्मृति ईरानी ने यह घोषणा गुजरात के सूरत में की, जहां वह भाजपा के स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंची थीं।

जल्द ही इसकी आधिकारिक घोषणा कर दी जाएगी। आपको बता दें कि स्मृति ईरानी के इस कदम के बाद पूरे देश के 23 आईआईटी में पढ़ रहे छात्रों को इसका फायदा मिलेगा।

स्मृति ईरानी ने  बताया कि आईआईटी में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, दलित और विकलांग बच्चों की फीस माफ करने के अलावा उन बच्चों को भी 66 प्रतिशत की छूट दी जाएगी, जिनके परिवार की आय 5 लाख रुपए सालाना से कम है।

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े