कोलंबिया की सुपरस्टार शकीरा के बारे में कौन नहीं जानता लेकिन उनकी कामयाबी के पीछे छीपे स्ट्रगल के बारे में कम ही लोग जानते हैं। शकीरा का जन्म एक अमीर परिवार में हुआ लेकिन बिजनेस में लॉस होने के कारण घर का सब कुछ बिक गया।

घर के हालात देखकर शकीरा काफी उदास हो गई। तभी उनके परिवार ने उन्हें गरीब बच्चों से मिलाया, जिन्हें मिलकर उन्होंने तय किया कि वो एक आर्टिस्ट बनेंगी और सफल होकर गरीब बच्चों के लिए कुछ करेंगी।
PunjabKesari
8 साल की उम्र में उन्होंने खुद म्यूजिक कंपोज़ करना और गाना लिखना शुरू कर दिया। 10 साल की उम्र में उन्होंने अपने स्कूल के सिंगिंग ग्रुप में सेलेक्शन के लिए गाना गाया लेकिन उन्हें यह कहकर रिजेक्ट कर दिया गया कि वह बकरी की तरह मिमियाती हैं। रिजेक्ट होने पर शकीरा ने हार नहीं मानी। लगातार मेहनत की।
PunjabKesari
म्यूजिक इंडस्ट्री में आने के बाद उनकी पहली दो एल्बम फ्लॉप हुई लेकिन जल्द ही उनका तीसरा एल्बम हिट हुआ। 18 साल की उम्र में उन्होंने Pies Descalzos नामक चैरिटी ऑर्गनाइजेशन बनाया। यह ऑर्गनाइजेशन गरीब बच्चों के लिए चलाए जा रहे स्कूलों की मदद करता है। शकीरा ने 2010 में फीफा वर्ल्ड कप का ऑफिशियल थीम सॉन्ग गाया, जिसे यूट्यूब पर एक अरब से ज्यादा बार देखा जा चुका है।


 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े