कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज भाजपा को खुली चुनौती दी कि वह साबित करके दिखाये कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने दल को "मुस्लिम पार्टी" कहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा इस मामले में देश के लोगों को गुमराह करने के लिये झूठ फैला रही है। मध्य प्रदेश कांग्रेस के चुनाव समन्वय समिति के प्रमुख दिग्विजय ने यहां संवाददाताओं से कहा, "यह सरासर झूठ है कि राहुल ने कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी कहा है। भाजपा केवल झूठ फैलाकर देश के लोगों को गुमराह करती है।" उन्होंने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा, "हमें इसका प्रमाण तो बता दीजिये कि राहुल ने कांग्रेस को मुस्लिम पार्टी कहा है।" मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके दिग्विजय ने कहा, "कांग्रेस भारत की पार्टी है जिसने देश को आजादी दिलायी थी। यह हिंदुओं, मुसलमानों, सिखों और ईसाइयों की पार्टी है। कौन कहता है कि यह एक समूह विशेष की पार्टी है।"कांग्रेस नेता ने नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि इस सरकार के मंत्रियों के पास अपने विभाग के बारे में बात करने की फुर्सत नहीं है. लेकिन वे अन्य विषयों पर मीडिया को सम्बोधित करने में खूब दिलचस्पी लेते हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रदेश में कांग्रेस नेताओं की एकजुटता पर की गयी टिप्पणी के बारे में दिग्विजय ने प्रदेश भाजपा में शीर्ष स्तर पर गुटबाजी का आरोप लगाते हुए तंज कसा कि "शिवराज को उनकी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से पूछना चाहिये कि उनके सीने में कितना दर्द है।" चौहान ने कांग्रेस नेताओं की एकता के दावों पर चुटकी लेते हुए कल यहां कहा था कि विपक्षी दल के बड़े नेता वाकई एकजुट हो गये हैं, तो उन्हें "एकता यात्राओं" और "समन्वय सम्मेलनों" का आयोजन क्यों करना पड़ रहा है। 

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े